भारत के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पियूष गोयल ने एक आज एक बयान में ये कहा है कि देश सेवा निर्यात में काफ़ी अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। विश्व में आर्थिक अनिश्चितताओं के बाद भी चालू वित्त वर्ष में सेवाओं का निर्यात 20 प्रतिशत बढ़कर 300 अरब डॉलर के लक्ष्य को पार कर जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर निर्यात की बात की जाए तो उसमें भी वृद्धि देखी जा रही है।

जहाँ विश्व के नेता बहुत कठिन समय की बात कर रहे हैं, वहीँ अप्रैल - दिसंबर 2022 -23 के दौरान भारत का निर्यात साल दर साल 9 प्रतिशत बढ़ा है, सेवाओं पर भी हमने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है। अप्रैल - दिसंबर 2022 -23 में कुल निर्यात 9 प्रतिशत बढ़कर 332.76 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया, जबकि आयात 24.96 प्रतिशत बढ़कर 551.7 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया है। पिछले वित्त वर्ष में देश के व्यापारिक शिपमेंट ने 422 बिलियन अमरीकी डॉलर के उच्च स्तर को छू लिया है।

पियूष गोयल ने कहा कि, " हालाँकि अलग-अलग महीनों में उतार चढ़ाव देखे गए हैं, लेकिन वैश्विक आर्थिक अनिश्चितताओं के बावजूद कुल मिलकर निर्यात का अच्छा प्रदर्शन रहा है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पियूष गोयल ने कहा कि अगर अमेरिका, यूरोप और चीन में थोड़ी तेजी आती है तो हम इस साल भी इसमें वृद्धि देखेंगे। उन्होंने कहा कि स्पष्ट रूप से कहा जाए तो एक ही गति को बनाए नहीं रखा जा सकता लेकिन हम उसपर क़याम हैं। गोयल ने बताया कि उन्होंने एक्सपोर्ट प्रमोशन कॉउन्सिल के साथ वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के ज़रिए मीटिंग की है और उन सभी ने वादा किया है कि इस गति को बनाए रखने के लिए वे अपनी इस तिमाही की सर्वश्रेस्थ क्षमताओं के साथ आगे बढ़ेंगे।