केंद्रीय विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा (सीयूईटी) स्नातक के चौथे चरण की शुरूआत बुधवार से होगी। जिसमें करीब 3.6 लाख उम्मीदवारों के हिस्सा लेने की उम्मीद है। अधिकारियों ने कहा कि जिन 11 हजार अतिरिक्त उम्मीदवारों को 17 से 20 अगस्त को चौथे चरण में उपस्थित होना था। उसे 30 अगस्त के लिये टाल दिया गया है ताकि उनकी पसंद के अनुसार शहरों में केंद्र दिया जा सके।

प्रारंभिक योजना के अनुसार, सीयूईटी-यूजी के सभी चरणों की परीक्षा 20 अगस्त तक समाप्त होने का कार्यक्रम था। परीक्षा का आयोजन करने वाले निकाय राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने बाद में घोषणा की है कि परीक्षा के सभी चरण 28 अगस्त तक पूरे हो जायेंगे। हालांकि, अब कार्यक्रम को फिर आगे बढ़ाया गया है और अब इसे छह चरणों में विभाजित किया गया है।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के अध्यक्ष जगदीश कुमार ने कहा कि 3.72 लाख परीक्षार्थियो में से 11 हजार उम्मीदवारों की परीक्षा को 30 अगस्त तक के लिये बढ़ा दिया गया है ताकि उनकी पसंद के अनुसार शहरों में केंद्र दिया जा सके। उन्होंने कहा कि एनटीए ने केंद्रों की क्षमता बढ़ायी है तथा कुछ और परीक्षा केंद्र जोड़े हैं।

इसके अलावा केंद्रों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिये भी प्रयास किये जा रहे हैं। गौरतलब है कि सीयूईटी परीक्षा के दूसरे चरण में तकनीकी गड़बड़ी के कारण कई केंद्रों पर परीक्षा को रद्द करना पड़ा था।