बॉलीवुड इंडस्ट्री इस वक्त बायकॉट ट्रेंड से जूझ रही है, खासकर जब किसी फिल्म विशेष के विरोध में कोई राजनेता बयान देता है तो देश में उसके खिलाफ माहौल सा बन जाता है। इसका संज्ञान लेते हुए हाल ही में पीएम मोदी ने बीजेपी कार्यकारिणी की बैठक अपने पार्टी कार्यकर्ताओं को सीधे तौर पर फिल्मों के संबंध में ‘अनावश्यक बयानबाजी’ मना किया है। ऐसे में इस बात की चर्चाएं जोर पर हैं कि क्या पीएम मोदी की नसीहत का फिल्मों के प्रदर्शन पर कोई असर पड़ेगा, वहीं इस पर अब बॉलीवुड के मशहूर फिल्ममेकर अनुराग कश्यप की प्रतिक्रिया सामने आई है।

अनुराग कश्यप बोले- पीएम को ये बात 4 साल पहले कहनी चाहिए थी

दरअसल, अनुराग कश्यप ने ये बयान गुरुवार को अपनी अगली फिल्म ऑलमोस्ट प्यार विद डीजे मोहब्बत के ट्रेलर लॉन्च के मौके पर दिया है। ट्रेलर लॉन्च के मौके पर मुंबई में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब अनुराग से पूछा गया कि आपको क्या लगता कि पीएम के अपने नेताओं को दिए नसीहत के चलते राजनेता फिल्मों पर बयानबाजी से बचेंगे और इससे बायकॉट गैंग पर इसका कोई असर पड़ेगा। इस सवाल पर अनुराग कश्यप ने कहा कि अगर यही बात पीएम चार साल पहले कहते तो, वाकई फर्क पर पड़ता, पर अब चीजें हाथ से बाहर निकल चुकी हैं... अब कोई किसी की नहीं सुनेगा।

राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर बयानबाजी के लिए जाने जाते हैं फिल्ममेकर

इस मामले पर अनुराग कश्यप ने राजनेताओं पर निशाना साधते हुए आगे कहा कि जब आप पूर्वाग्रहग्रस्त चीजों को अपनी चुप्पी से ताकत देते हैं तो फिर वो अपने आप में ही बहुत ताकतवर बन जाती हैं, बायकॉट गैंग भी इसी की देन है, जो आज फिल्मों पर गलत प्रभाव डाल रहा है। गौरतलब है गैंग्स ऑफ वासेपुर, ब्लैक फ्राइडे, अगली औरदोबारा जैसी फिल्मों को बनाने वाले अनुराग कश्यप राजनीतिक और सामाजिक मुद्दों पर खुलकर बोलने के लिए जाने जाते हैं। इससे पहले उनके कई बयानों ने काफी सुर्खियां भी बटोरी हैं।