गुडलुर, तमिलनाडु: भारत जोड़ो यात्रा का आज 22 वां दिन तामिलनाडु के गुडलुर में समाप्त हुई। यात्रा समापन के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोगों को संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन में कई अहम बातें कही। राहुल गांधी ने 22 दिनों के अपने अनुभव को साझा करते हुए कहा कि “यात्रा के दौरान अगर कभी दर्द महसूस होता है - तो लोगों का जज़्बा, उनका प्यार, उनके उत्साह को देखकर सब भूल जाता हूँ।”यात्रा के दौरान हर तरह के रंग देखने को मिल रहें हैं, मै इस अनुभव को कभी भूल नहीं पाउंगा।

उन्होंने आगे केंद्र सरकार की नीतियों पर कई सवाल खड़ा किए। राहुल गांधी ने कहा, राज्यपालों को विपक्ष शासित राज्यों में हस्तक्षेप करने का अधिकार क्यों होना चाहिए? क्या वे राज्य के लोगों द्वारा चुने जाते हैं? भाजपा और आरएसएस को भारत के लोगों द्वारा चुनी गई सरकारों को गिराने का क्या अधिकार है?

आगे राहुल गांधी बोले, बीजेपी पूरे देश पर एक भाषा और एक संस्कृति थोपना चाहती है। हम एकता चाहते हैं लेकिन विविधता का सम्मान करते हैं। इस खूबसूरत देश में हर राज्य, हर संस्कृति और हर भाषा का एक स्थान है और उस जगह का सम्मान किया जाना चाहिए। देश में भाजपा द्वारा फैलाई गई नफरत और गुस्से का नतीजा है कि आज देश में बेरोजगारी उच्चतम स्तर है, किसानों, मजदूरों, छोटे और मध्यम व्यवसायों को भारी पीड़ा का सामना करना पड़ रहा है, दैनिक जरूरतों के समान के कीमत लोगों को आर्थिक रूप से बुरी तरह से प्रभावित कर रही है, लेकिन सरकार इन सब से बेपरहवाह गिने-चुने घनी लोगों के लिए कार्य कर रही है।