नई दिल्ली:  दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मुंबई की नवा सेवा पोर्ट से 1,725 रुपये की हेरोइन को जब्त किया है। स्पेशल टीम ने यह कार्रवाई गुप्त सूचना के आधार पर की है। बताया जा रहा है कि मात्रा के हिसाब से अबतक की यह सबसे बड़ी ड्रग तस्करी थी जिसे पुलिस की विशेष कार्रवाई के बाद पकड़ा गया है। इसकी मात्रा नापने के बाद 22 टन बताई गयी है जो कि एक कंटेनर की सहायता से मुंबई पोर्ट पर पहुंची थी। ड्रग की इतनी बड़ी मात्रा देख पुलिस भी हैरान है। आगे की जांच की जा रही है।

दिल्ली स्पेशल सेल की कमिश्नर धारीवाल ने बताया कि  यह हेरोइन की सबसे बड़ी बरामदगी में से एक है। मुंबई के नवा शेवा पोर्ट के एक कंटेनर से हेरोइन के साथ लेपित 22 टन लगभग नशीला पदार्थ से भरा एक कंटेनर जब्त किया गया। जब्त की गई हेरोइन की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में 1,725 ​​करोड़ रुपये है। जब्त की गई हेरोइन की कुल कीमत करीब 1,725 ​​करोड़ रुपये है। कंटेनर को दिल्ली ले जाया गया। यह जब्ती इंगित करती है कि नार्को आतंक हमारे देश को कैसे प्रभावित कर रहा है और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी हमारे देश में ड्रग्स को धकेलने के लिए विभिन्न तरीकों का उपयोग कर रहे हैं।

सबसे बड़ा सवाल यह है इतनी बड़ी मात्रा में ड्रग्स मुंबई पोर्ट पर कैसे पहुंची। और यह पहली बार नहीं जब मुंबई में इतनी बड़ी मात्रा में ड्रग्स पकड़ी गई हो। पिछले दिनों ही करीब 1200 करोड़ रुपये की ड्रग्स पकड़ा गया था। उसके ठीक कुछ ही दिनों बाद दोबारा से इतनी बड़ी ड्रग्स पकड़ा जाना कोई सामान्य बात नहीं है। कौन गिरोह है जो पकड़े जाने के बाद भी दोबारा से साहस कर इतनी बड़ी मात्रा में ड्रग्स की तस्करी कर रहा था।