आज पूरा देश अपना 74वां गणतंत्र दिवस मनाया रहा है। हर तरह लोग देश भक्ति में डूबे हुए है। आज का गणतंत्र दिवस समारोह बेहद खास होने वाला है इस खास मौके पर भारत सैन्य कौशल, सांस्कृतिक विविधता और कई अन्य अनूठी पहलों का गवाह बनेगा। रिपब्लिक डे की परेड सुबह 10 बजकर 30 मिनट पर शुरू होगी। इस अवसर पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति द्रौहदी मुर्मू और कई दिग्गज मौजूद रहेंगे। इस बार का गणतंत्र दिवस समारोह बहुत ही यादगार बनने वाला है। भारतीय संस्कृति की झलक आज देखने को मिलेगी।

पहली बार कार्यक्रम का नेतृत्व करेंगी राष्ट्रपति मुर्मू

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु आज कर्तव्य पथ से 74वें रिपब्लिक डे में देश का नेतृत्व करेंगी। आपको बता दें कि इस बार गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फत्ताह अल-सिसी होंगे। परेड समारोह की पीएम मोदी राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जाएंगे और शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। इसके बाद ही परेड की शुरूआत होगी।

21 तोपों की दी जाएगी सलामी

रिपब्लिक डे कार्यक्रम में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद और उसके 21 तोपों की सलामी दी जाएगी और राष्ट्रगान होगा। आपको बता दें कि 105 मिमी की भारतीय फील्ड गन से पहली बार 21 तोपों की सलामी दी जाएगी। यह भारत की एक आत्मनिर्भर गन है। जो पुरानी 25 पाउंडर बंदूक की जगह लेंगी। इसके अलावा कर्तव्य पथ पर फूलों की बारिश की जाएगी। 105 हेलीकॉप्टर यूनिट के चार एमआई-17 1वी -वी5 हेलीकॉप्टर कर्तव्य पथ पर पर पुष्प वर्षा करेंगे।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के परेड की सलामी लेने के साथ गणतंत्र दिवस परेड की शुरू होगी। परेड कमांडर, लेफ्टिनेंट जनरल धीरज सेठ, अति विशिष्ट सेवा मेडल, दूसरी पीढ़ी के सेना अधिकारी रिपब्लिक डे परेड की कमान संभालेंगे। बता दें कि मुख्यालय दिल्ली क्षेत्र के चीफ ऑफ स्टाफ मेजर जनरल भवनीश कुमार परेड सेकेंड-इन-कमांड होंगे।