देश की आर्थिक राजधानी से इस समय की एक बड़ी खबरे सामने आई है जिसमें आपको बता दें कि महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी किसी भी समय या माने तो जल्द ही इस्तीफा दे सकते है। महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी अपनी जिम्मेदारियों से मुक्त होना चाहते है। इस बीच उन्होंने ट्वीट कर जानकारी देते हुए बताया कि " माननीय प्रधान मंत्री की हाल की मुंबई यात्रा के दौरान, मैंने उन्हें सभी राजनीतिक जिम्मेदारियों से मुक्त होने और अपना शेष जीवन पढ़ने, लिखने और अन्य गतिविधियों में बिताने की अपनी इच्छा से अवगत कराया है। मुझे हमेशा माननीय प्रधान मंत्री से प्यार और स्नेह मिला है और मुझे इस संबंध में भी ऐसा ही मिलने की उम्मीद है।"

 

लोगों को अचानक भगत सिंह कोश्यारी का यूं इस्तीफा देना हैरान कर गया है। महाराष्ट्र की राजनिति जिस प्रकार चल रही है। कोश्यारी ने आगे कहा कि महाराष्ट्र जैसे संतो, समाज सुधारको और वीरों की महान भुमि का राज्यपाल होना मेंरे लिए सौभाग्य की बात थी। प्रदेश की जनता से तीन वर्ष से अधिक समय तक मिले प्यार और स्नेह की कभी मै भूल नहीं सकता है।

2019 में नियुक्त किए गए थे राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी। इससे पहले 2001 उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भी रह चुके है और नैनीताल के सांसद भी रहे है। महाराष्ट्र के पूर्व राज्यपाल सी रविशंकर का कार्यकाल समाप्त होने के बाद उन्हें यहां का नया राज्यपाल बनाया गया था। 

भगत सिंह कोश्यारी का जन्म 

भगत सिंह कोश्यारी का जन्म 17 जून 1942 को उत्तराखंड के बागेश्वर जिले स्थित चेताबागड़ गांव में हुआ था। कोश्यारी ने अपनी प्रराम्भिक शिक्षा अल्मोड़ा में पूरी की औऱ उसके बाद उन्होंने आगरा विश्वविघालय से अग्रेज साहित्य में आचार्य की उपाधि प्राप्ति की।