आपको यकीन नहीं होगा दुनिया मे ऐसी जगह भी है जहां के लोग कई वर्षो तक जीवित रहते हैं। जिसे वैज्ञानिकों ने ब्लू जोन नाम दिया है। ब्लू जोन में रहने वाले लोगों की मृत्यू 90 या 100 वर्ष की आयु में होती है।

आइए जानते है.इनके ज्यादा दिन तक जीने का क्या है रहस्य?

व्यक्ति कितना दिन तक जीवित रह सकता है. यह तो कोई नहीं बता सकता है। लेकिन आप स्वंय का ख्याल रख कर आप लंबी आयु तक जीवित रह सकते है। आज हम बताने वाले हैं एक ऐसी जगह के बारे में जहां के लोग लगभग 100 सालो तक जीवित रहते हैं। साथ ही इनके लंबी उम्र के रहस्य से भी पर्दा उठाएंगे.

ब्लू जोन क्या है?

 ब्लू ज़ोन नाम  डैन ब्यूटनर  द्वारा दिया गया नाम है. जो भौगलिक क्षेत्रों को देखते हुए दिया गया है। जहां के रहने वाले लोग समान्य लोगों के मुकाबले ज्यादा आयु तक जीते है। इन लोगों का जिवन शैली अलग है। WHO के अनूसार 2019 में विश्व भर में जीवन प्रत्याशा औसत दर 73.4 वर्ष थी.

क्यों कहते हैं इसे ब्लू जोन

 ब्लू जोन पर  सबसे पहले डैन ब्यूटनर स्टडी किए थे।जब  ब्यूटनर ब्लू जोन के भौगलीक क्षेत्रों पर रिसर्च कर रहें थे. तब उन्होंने मैप पर भौगलिक क्षेत्रों के चारो तरफ नीले घेरे बना दिए थे। तभी से इसका नाम ब्लू जोन पड़ गया। ब्लू जोन में आने वाले क्षेत्र ब्लू जोन पर ब्यूटनर ने एक किताब लिखी थी, जिसका नाम द ब्लू जोन्स रखें थे. इस किताब में पांच ब्लू जोन क्षेत्र का नाम है जो ब्लू जोन में आते है।

1. इकारिया- इकारिया के लोग जैतून का तेल, रेड वाइन और देसी सब्जीयों से भरपूर मेडिटिरेनियन आहर को अपने रोजमर्रा की जिदंगी में सम्मिलित करते है। यह ग्रीस का एक आइलैंड भी है

2. ओग्लिआस्ट्रा, सार्डिनिया- यहां पर ज्यादा तर बुजुर्ग पुरुष निवास करते है। यह पहाड़ी क्षेत्र है। यहां के लोग खेतों में काम करते है और रेड वाइन पिते है।

3. ओकिनावा- यहां पर ज्यादा तर बुजुर्ग महिलांए रहती हैं। यहां के लोग सोया से बने खाद्य पदार्थ का सेवन ज्यादा करते है। और ताई ची का अभ्यास करते हैं।

4. निकोया प्रायद्वीप- यहां के लोग मेहनती होते हैं, ये लोग बुढ़ापे में भी श्रम करते है। ये लोग ज्यादातर बीन्स और कॉर्न शामिल है।

5. लोमा लिंडा- यहां के लोग शाकाहारी होते है, ये सेवन्थ डे एडवेंटिस्ट समूह के लोग है।