यह सच है कि आपकी ड्रेसिंग आपके व्यक्तित्व को बहुत हद तक प्रभावित करती है। आप जब कभी भी कहीं भी जाती हैं तो सबसे पहले लोग आपके पहनावे को ही देखते हैं। वो आपके पहनावे से आपके बारे में एक हल्की फुल्की राय तो बना ही लेते हैं। इसलिए यह बहुत जरूरी है कि अपने पहनावे को इतना उम्दा बना लिया जाए कि जो भी आपको देखे बस देखता ही रह जाए। 

दरअसल, आपकी ड्रेसिंग सेंस से आपकी हर अनकही बात, आपके व्यक्तित्व से जुड़े कई पहलू परिलक्षित होते हैं। पहले के समय में कपड़े पहनना बस शरीर को ढ़कने भर का एक जरिया हुआ करता था। लेकिन आज वक्त बदल चुका है, चीजें बदल चुकी हैं। आज के समय में आपका पहनावा आपके आर्कषक व्यक्तित्व का परिचायक है। आपका ड्रेसिंग सेंस आपके मूड, आप वास्तव में किस तरह की इंसान हैं, आपकी स्टाइल, आपकी आदतें सबकुछ बयां करता है। ऐसे में बेहतर ड्रेसिंग सेंस के जरिए आप अपने व्यक्तित्व में चार चांद लगा सकते हैं। इसके लिए आपको बस कुछ बातों का ध्यान रखना है। तो चलिए उन पहलुओं के बारे में बात करते हैं जो आपके ड्रेसिंग सेंस को और बेहतर बना सकते हैं।

दूसरों की न करें नकल

अक्सर ड्रेसअप होते वक्त हम जो सबसे बड़ी गलती करते हैं वह यह कि हम दूसरों की देखा- देखी करने में लग जाते हैं। यह बिल्कुल भी जरूरी नहीं कि जो ड्रेस किसी दूसरे पर अच्छी लग रही है वह आप पर भी अच्छी लगे। हर किसी की अपनी एक व्यक्तिगत पर्सनालिटी होती है। हमें हमेशा अपने पर्सनालिटी के अनुरूप ही कपड़े पहनने चाहिए। दूसरों को देखकर पहने गए कपड़े हमेशा आपके बैड ड्रेसिंग सेंस स्किल्स को दर्शाता है।

जगह के अनुरूप ही पहने कपड़े

आपके कपड़ों का चुनाव आपको किस जगह जाना है उसके अनुरूप ही करना चाहिए। फर्ज करें कि आप पूजा-पाठ के स्थान पर जा रही हों और आपने कपड़े वेस्टर्न तरीके के पहन लिए हैं तो वह स्थान विशेष के लिए काफी ही अटपटा सा हो जाएगा और आप खुद में भी अच्छा महसूस नहीं करेंगी। तो इसलिए यह बहुत जरूरी है कि आप अपने कपड़ों का चयन जाने वाले जगह के अनुरूप ही करें।

रंगों का रखें विशेष ध्यान

आपकी पर्सनालिटी को जो सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाली चीज है वह यह कि आपने अपने कपड़ों के लिए किन रंगों का चुनाव किया है। गोरे रंग के लोगों को तो कपड़ों के रंगों के चयन में कोई परेशानी नहीं होती क्योंकि उन पर हर रंग ही फबता है लेकिन जो सांवली रंगत के लोग होते हैं उन्हें ना ही ज्यादा हल्के और ना ही ज्यादा गहरे रंगों का प्रयोग करना चाहिए। क्योंकि हल्का रंग उनके सांवले रंग को और भी उभारता है और गहरा रंग उनके सांवले रंग को और भी ज्यादा दबा देता है। तो कोशिश यही होनी चाहिए कि सांवले रंग के लोग कुछ मिले- जुले रंगों का ही प्रयोग करें जैसे- हरा, आसमानी, मैरून। ये कुछ साधारण सी ऐसी बातें हैं जो ड्रेसअप होते वक्त हर किसी को ध्यान में रखनी ही चाहिए।