सभी लोगों ने मधुमक्खी के बारे में तो जरूर सुना ही होगा साथ ही सभी लोगों ने देखा भी होगा। मधुमक्खी जितनी देखने में छोटी होती है उतनी ही खरनाक भी होती है खासतौर से इसका डंक जो की काफी खतरनाक होता है।यदि किसी कारण मधुमक्खी किसी भी व्यक्ति को काट लेती है तो वह व्यक्ति काफी परेशान हो जाता है इसके अलावा जिस स्थान पर मधुमक्खी ने काटा है उस स्थान काफी सूजन आ जाती है।

साथ ही मधुमक्खी ने जहां उस व्यक्ति को काटा है वह जगह लाल पड़ जाती है । इसके अलावा काटे गए स्थान पर खुजली महसूस होने लगती है वहीं दूसरी ओर काटे गए स्थान पर काफी तेज दर्द होने लगता है। जिससे पीड़ित काफी परेशान हो जाता है और उसे किसी भी तरह का कोई भी आराम नहीं मिल पाता है।

कई बार ऐसा होता है कि तेज मधुमक्खी के काटने से मरीज को बुखार भी आ जाता है और कई लोग ऐसे भी होते है जिनके शरीर में मधुमक्खी के काटने से एलर्जी होने लगती है। कई हेल्थ एक्सपर्ट का कहना है कि यदि एक मधुमक्खी किसी एक ही इसांन को काटती है तो उसका डंक शरीर के अंदर तीन घटें तक रह सकता है। इससे बचने के कुछ घरेलू उपाय भी किए जा सकते हैं।

बर्फ का प्रयोग

जिस व्यक्ति को मधुमक्खी ने काटा है उस जगह पर आप बर्फ का इस्तेमाल कर सकते हैं।साथ ही उस स्थान पर बर्फ को हल्के हाथ से लगाएं ।बर्फ ठंडी होने के कारण यह मधुमक्खी के काटे गए स्थान पर जहर फैलने से रोकने का काम करती है ।

बेकिंग सोडा का प्रयोग

बेकिंग सोडा में मौजूद सभी प्रकार के गुण मधुमक्खी के काटे गए स्थान पर काफी लाभ पहुंचाते है । इतना ही नहीं यह सूजन और दर्द के साथ ही खुजली को भी कम करने में मदद करता है ।