भारतीय कुश्ती महासंघ इन दिनों विवादों से गुजर रहा है। गौरतलब है कि कुछ दिनो पहले खेल मंत्रालय ने WFI के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह  के खिलाफ लगे गंभीर आरोपों की जांच के लिए निगरानी समिति का एलान किया था। बता दें कि सोमवार को इस समिति के सदस्यों की घोषणा की गई है, जिसमें पूर्व वर्ल्ड चैंपियन बॉक्सर मेरी कॉम को अध्यक्ष बनाया गया है।

पूर्व वर्ल्ड चैंपियन बॉक्सर मेरी कॉम बनी निगरानी समिति की अक्ष्यक्ष

गौरतलब है कि देश के कई नामी पहलवानों ने भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण के खिलाफ यौन शोषण समेत गंभीर आरोप लगाए हैं। पहलवानों ने इस मामले पर कार्यवाई की मांग के साथ बीते 3 दिनो से दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरना दिया है। ऐसे में खेल मंत्रालय ने अपनी मांग पर डिगे रहे पहलवानों को ये आश्वासन दिया कि बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ लगाए गए आरोपों की जांच के लिए एक समिति का गठित की जाएगी। सोमवार को इस समिति के सदस्यों और अक्ष्यक्ष के नाम की घोषणा की गई है। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो पांच लोगों की इस समिति का अक्ष्यक्ष मेरी कॉम को बनाया गया है।

समिति की जांच पूरी होने तक बृजभूषण नहीं देखेंगे फेडरेशन का काम काज

वहीं केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने ये भी बताया है कि इस मामले की जांच पूरी होने तक बृजभूषण सिंह WFI का काम नहीं देखेंगे। बल्कि मंत्रालय की तरफ से गठित नवसमिति ही भारतीय कुश्ती संघ के कामकाज और हर दिन की गतिविधियों पर नजर रखेगी। वहीं समिति के तरफ से जारी किए जांच रिपोर्ट के आधार पर सरकार इस मामले पर अपना अंतिम फैसला लेगी। इस समिति को अगले 4 हफ्ते में अपनी जांच रिपोर्ट सौंपनी होगी। खेल मंत्री ने साफ किया है कि इस मामले की जांच में बृजभूषण सिंह ने सहयोग करने का पूरा आश्वासन दिया है।