श्रीलंका क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी मुथैया मुरलीधरन ने जबतक अपने देश के लिए क्रिकेट खेला तबतक उन्होंने काफी रिकॉर्ड अपने नाम किए। उन्होंने कुछ ऐसे रिकॉर्ड भी बनाए जिनको आज तक कोई भी खिलाड़ी नहीं तोड़ पाया है। बता दें, मुरलीधरन ने श्रीलंका के लिए काफी सालों तक क्रिकेट खेला और उन्हें अब क्रिकेट से संन्यास लिए लगभग 12 साल हो चुके है लेकिन उनका टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड आज तक कोई गेंदबाज नहीं तोड़ पाया है।

बता दें, इटरनेशनल टेस्ट क्रिकेट में मुरलीधरन ने 133 मैचों की 230 पारियों में 800 विकेट अपने नाम कर रखे है उनके इस रिकॉर्ड को कोई तोड़ना तो दूर बल्कि इसके आस-पास भी कोई नहीं पहुंच पाया है। हालांकि ये कहना मुश्किल नहीं होगा कि आगे कोई गेंदबाज मुरलीधरन के इस रिकॉर्ड को तोड़ नहीं सकता है।

बता दें, इस रेस में सबसे पहले नाम आता है इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का, जिनके नाम टेस्ट क्रिकेट में फिलहाल 675 विकेट है लेकिन अभी भी एंडरसन मुरलीधरन से 126 विकेट पीछे है और एंडरसन भी इंग्लैंड के लिए काफी समय से क्रिकेट खेलते आ रहे है जानकारी के मुताबिक इस साल होने वाली ऐशेज सीरीज के बाद एंडरसन क्रिकेट से संन्यास ले सकते है और एक साल के अंदर उनके लिए मुरलीधरन के इस रिकॉर्ड को तोड़ पाना काफी मुश्किल होगा।

अगर एंडरसन को यह रिकॉर्ड तोड़ना है तो उनको एक साल के अंदर 126 विकेट लेने होंगे जो काफी मुश्किल है क्योंकि आज तक कोई गेंदबाज एक क्रिकेट कैलेंडर ईयर में 96 से ज्यादा विकेट नहीं ले पाया है।

बता दें, कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा 96 विकेट लेने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज शेन वॉर्न के नाम है। मुथैया मुरलीधरन भी शेन वॉर्न के इस रिकॉर्ड को तोड़ नहीं पाए थे हालांकि उन्होंने कोशिश काफी की थी जिके चलते मुरलीधरन कैलेंडर ईयर में 90 विकेट लेने में कामयाब हुए थे।