भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा पांच महीनों के लंबे अंतराल के बाद क्रिकेट मैदान पर वापसी कर रहे है। बता दें, एशिया कप 2022 के दौरान उनको घुटने में चोट लग गई थी जिसके चलते वे क्रिकेट मैदान से दूर हो गए थे लेकिन अब उन्होंने रणजी ट्रॉफी से क्रिकेट के मैदान पर वापसी की है। रणजी ट्रॉफी के एलीट ग्रुप बी में सौराष्ट्र की तरफ से कप्तानी करते हुए जडेजा मैदान पर उतरे।

सौराष्ट्र और तमिलनाडू के बीच यह मैच चेन्नई के एमए चिन्ना स्वामी स्टेडियम में खेला जा रहा है। यह मैच रवींद्र जडेजा के लिए काफी अहम है क्योंकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली टेस्ट सीरीज के पहले दो मैचों के लिए जडेजा को टीम में शामिल किया गया है लेकिन उससे पहले उनका पूरी तरह से फिट होना काफी अहम है जिसके लिए रणजी ट्रॉफी में उतरे है।

इस मैच से पहले जडेजा को जमकर अभ्यास करते हुए देखा गया था जहां उन्होंने गेंदबाजी और बल्लेबाजी का अभ्यास किया। यह मैच जडेजा के लिए एक फिटनेस टेस्ट की तरह ही होगा। वहीं रणजी ट्रॉफी के इस मैच से पहले जडेजा ने कहा था कि, ''मैं मैदान पर वापस आकर अच्छा महसूस कर रहा हूं। बहुत उत्साहित हूं। उम्मीद है कि यह टीम के लिए और मेरे लिए अच्छा होगा। देखिए मेरी पहली प्राथमिकता मैदान पर उतरना और फिट रहना है। 100 फीसदी फिट।''

जडेजा विश्व के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर है ऐसा में उनका ऑस्ट्रेलिया सीरीज से पहले अपनी पुरानी लय में लौटना टीम इंडिया के लिए काफी अहम है। रवींद्र जडेजा ने अभी तक 60 टेस्ट मैच खेले है जिसमें उन्होंने बल्लेबाजी करते हुए 2523 रन और गेंदबाजी करते 242 विकेट अपने नाम किए। जडेजा के आंकड़े बताते है कि आखिर क्यों उनको दुनिया के बेहतरीन ऑलराउंडरों में चुना जाता है।