राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा को बड़ी उपलब्धि प्राप्त हुई है। यूके की संसद में राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ‘इंडिया यूके आउटस्टैंडिंग ऑनर अवार्ड’ से सम्मानित होंगे। पंजाब और देश का नाम रौशन हुआ है। बता दें कि राघव चड्ढा को सरकार, राजनीति, कानून और समाज श्रेणी के लिए उत्कृष्ट उपलब्धि कर्ता के रूप में चुना गया है। इंडिया यूके अचीवर ऑनर भारत के 75 में स्वतंत्रता वर्षगांठ के अवसर पर यूके में अध्ययन करने वाले युवा भारतीयों की शैक्षिक और व्यवसाय उपलब्धियों के सम्मान में मनाया जा रहा है।

बता दें कि स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली के इंडिया गेट पर सभी राज्यों की संस्कृति और परंपराओं से जुड़ी झांकियां निकाली जाती है। इसके अलावा सभी भारतीय सेनाएं अपनी ताकत का प्रदर्शन करके दिखाती है। जिसको देखने के लिए सभी देशवासी काफी उत्सुक रहते है। लेकिन वहीं इस बार केंद्र सरकार ने पंजाबवासियों को एक बड़ा झटका दिया है। बता दें, गणतंत्र दिवस परेड के लिए पंजाब की झांकी को केंद्र सरकार ने खारिज कर दिया है।

जिसको लेकर अब केंद्र सरकार पर काफी सवाल भी उठने लगे है। वहीं आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि, "गणतंत्र दिवस हमें संघवाद की भावना की याद दिलाता है। गणतंत्र दिवस परेड के लिए पंजाब की झांकी की अस्वीकृति ने केंद्र के संघ-विरोधी और पक्षपातपूर्ण रवैये को उजागर कर दिया है। यह पंजाब की संस्कृति, परंपराओं और राष्ट्र के लिए अनगिनत योगदानों की केंद्र सरकार द्वारा एक कुंद बर्खास्तगी है।"

 

कई लोग केंद्र सरकार के इस फैसले को गंदी राजनीति बता रहे है। लोगों का कहना है कि गणतंत्र दिवस को किसी भी दलीय राजनीति से कहीं अधिक बड़ा माना जाता है। यह केंद्र सरकार द्वारा किया गया घिनौना काम है। बता दें, गणतंत्र दिवस 2023 पर इस बार पंजाब की झांकियां देखने को नहीं मिलेगी। जिसको लेकर अब केंद्र सरकार पर विपक्ष जमकर निशाना साध रहा है।