बुरहानपुर, मध्यप्रदेश। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा आज मध्य प्रदेश पहुंच चुकी है, भारत जोड़ो यात्रा बुरहानपुर जिले के बोदरली गांव से शुरू होकर दरियापुर होते हुए सेंट जेवियर स्कूल जैनाबाद फाटक पहुंची। स्कूल में चार बजे तक विश्राम किया जाएगा, विश्राम के बाद यात्रा आगे बढ़ेगी।

राहुल गांधी ने कहा कि देश से डर, नफरत, बेरोज़गारी और महंगाई को ख़त्म कर, हम न्याय का हिंदुस्तान बनाएंगे। आज भारत जोड़ो यात्रा महाराष्ट्र से होती हुई मध्य प्रदेश पहुंच गई है। उन्होंने आगे कहा कि इस तिरंगे को श्रीनगर में लहराने से हमें कोई ताकत नहीं रोक पाएगी।

 

वहीं प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर लिखा कि आज से भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश में प्रवेश कर रही है। देशवासियों के समर्थन से राहुल गांधी के नेतृत्व में प्रेम व प्रगति का कारवां मजबूती से आगे के ओर बढ़ रहा है।

बुरहानपुर के करीब एक स्कूल में रुकी भारत जोड़ो यात्रा-

आपको बता दें कि राहुल गांधी ने यात्रा शुरू करने से पहले बोदरली बस स्टैंड पर मंच में कहा कि इस प्यार और स्नेह के लिए आप सबका बहुत-बहुत धन्यवाद। जब यात्रा शुरू की थी तो विपक्ष ने कहा था इतने बड़े देश को पैदल नहीं नापा जा सकता।

उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग डर फैला कर हिंसा करते हैं। युवाओं में बेरोजगारी का डर, तो मजदूरों में मनरेगा के तहत काम ना देकर डर और किसानों को उनकी उपज का सही मूल्य न देकर डर फैलाते हैं। उन्होंने मंच में पांच साल के बच्चे को बुलाकर पूछा कि वह क्या बनना चाहता है, तो बच्चे ने कहा बड़ा होकर वह डॉक्टर बनेगा।

 

राहुल गांधी ने कहा कि बच्चे को पता है कि उसे क्या बनना है, मगर देश के मौजूदा हालात ऐसे हैं की कड़ी मेहनत के बाद भी डॉक्टर नहीं बन पाएगा। राहुल गांधी ने एक महिला (रीना पवार) को बुलाकर पूछा यूपीए की सरकार में गैस सिलेंडर का क्या दाम था, महिला ने कहा 400 रुपए, उन्होंने पूछा अब कितना है महिला ने कहां 1200 रुपए। इस पर उन्होंने कहा कि यह सारा पैसा किसकी जेब में जा रहा है।

एक किमी से ज्यादा लंबी यात्रा, बड़ी संख्या में पहुंच रहे लोग-

गौरतलब है कि बोदरली से प्रारंभ हुई राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में लोग बड़ी संख्या में हिस्सा ले रहे हैं। कार्यकर्ताओं में उत्साह है और वे राहुल गांधी के साथ चलने के लिए बार-बार आगे आ रहे हैं लेकिन सुरक्षा कारणों से सीमित लोग ही उनके पास पहुंच पा रहे हैं।

1 किलोमीटर से अधिक की लंबी यात्रा है। रास्ते में जगह-जगह कार्यकर्ता खड़े हुए हैं जो कह रहे हैं कि मध्य प्रदेश में आपका स्वागत है। यात्रा में यह नारा लगाया जा रहा है कि नफरत छोड़ो, भारत जोड़ो।