18 जनवरी 2023 को तेंलगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने खम्मम में बीआरएस की पहली विशाल जनसभा की। सीएम केसीआर इस जनसभा को संबोधित किया। सीएम केसीआर की इस जनसभा में विपक्षी पार्टियां भी शामिल हुईं। इस रैली में केजरीवाल , भगवंत मान, अखिलेश यादव समेत विपक्ष के कई बड़े नेता शामिल हुए।

सीएम केसीआर ने 24 घंटे के अंदर वादा किया पूरा

रैली के संबोधन में केसीआर ने खम्मम जिले में सीएम केसीआर के विशेष कोष से विकास परियोजनाओं के लिए 248.9 करोड़ रुपये से अधिक की धनराशि की घोषणा की थी। इसके अलावा उन्होंने मुनेरू नदी पर पुराने पुल को बदलने के लिए एक नए पुल और नए पाठ्यक्रमों के साथ जवाहरलाल नेहरू प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के तहत एक सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज के लिए धन का भी आश्वासन दिया था। महज 24 घंटे के अंदर 19 जनवरी को राज्य सरकार ने खम्मम के लोगों से किए गए वादे को पूरा करते हुए खम्मम में मुनेरू नदी पर एक पुल के निर्माण के लिए 180 करोड़ रुपये मंजूर कर दिए।

नये पुल का निर्माण

खम्मम में बनने वाला नया केबल-स्टे ब्रिज 420 मीटर लंबा होगा, जिसमें से 300 मीटर केबल-स्टे और 120 मीटर आरसीसी टाइप का होगा। इसके निर्माण के बाद पब्लिक ट्रांसपोर्ट और पुल पर ट्रैफिक का संचालन सुचारू रूप से शुरू हो जाएगा। बता दें कि मुनेरू कृष्णा नदी की एक सहायक नदी है। इस नदी का नाम ऋषि मौदगल्य के नाम पर रखा गया है। जिनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने अपनी आध्यात्मिक शक्ति से इस नदी का निर्माण किया और खम्मम में तपस्या की थी।

ये नदी दोर्नाकल एरु से होकर बहती है और कमंचकल से होते हुए खम्मम शहर के उपनगर दानवईगुडम में आती है जहां जल संग्रहण की सुविधा के लिए इसमें एक छोटा बांध बनाया गया है। मुनेरू खम्मम शहर के लिए जल स्रोत के रूप में कार्य करता है। यह खम्मम शहर के मांचीकांति नगर, कलावोड्डू, मोती नगर, प्रकाश नगर और धामसलमपुरम उपनगरों से होकर गुजरती है।