नई दिल्ली। आउटर जिला पुलिस ने ऑपरेशन क्लीन स्वीप के तहत संगठित अपराध के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में 66 बदमाशों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने कुल 56 मामले दर्ज किए हैं और बदमाशों के कब्जे से चाकू, कारतूस अवैध शराब और हजारों रुपए की जुआ राशि बरामद की है।

बाहरी जिले के डीसीपी समीर शर्मा ने बताया कि जिले में संगठित अपराध रोकने के लिए बाहरी जिला पुलिस को निर्देश दिए गए थे। इसी क्रम में पुलिस ने काम करते हुए 56 मामले दर्ज किए हैं, जिसके तहत 66 आरोपी व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें जुआ अधिनियम के तहत 13ए आबकारी अधिनियम के तहत 49ए आर्म्स एक्ट के तहत 4 बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है। इस ऑपरेशन को चलाए गए पिछले एक हफ्ते में यह सबसे बड़ी बरामदगी है। पुलिस ने कुल 56 मामलों में आरोपी व्यक्तियों से चार चाकू, 9870 क्वार्टर अवैध शराब और 11440 की नकदी जुए के राशि के रूप में बरामद की है।

डीसीपी समीर शर्मा ने बताया कि रानी बाग थाना पुलिस ने आबकारी अधिनियम के तहत एक आरोपी और आर्म्स एक्ट के तहत एक आरोपी को गिरफ्तार किया है और उससे एक चाकू बरामद किया है इसी तरह मंगोलपुरी पुलिस ने 21 आरोपियों को गिरफ्तार किया जिसमें आबकारी अधिनियम के तहत 13 और जुआ अधिनियम के तहत तीन आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं।

थाना राज पार्क पुलिस ने 10 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिसमें आबकारी अधिनियम के 7 और जुआ अधिनियम में एक आरोपी को गिरफ्तार किया हैं। राज पार्क थाना पुलिस ने आर्म्स एक्ट में भी एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। इसी तरह सुल्तानपुरी थाना पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया। जिसमें आर्मस एक्ट में एक, आबकारी एक्ट में दो और जुआ अधिनियम में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

इसी तरह नांगलोई थाना पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिसमे आबकारी अधिनियम में दो आरोपी गिरफ्तार किया है और रणहौला थाना पुलिस ने भी दो आरोपी को आबकारी अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया हैं। इसके अलावा मींडका थाना पुलिस ने 4 लोगो को गिरफ्तार किया है। जिसमे आबकारी अधिनियम के 3 और आर्म्स एक्ट में एक आरोपी पकड़ा है निहाल विहार थाना पुलिस ने 11 को गिरफ्तार किया है।

पश्चिम विहार वेस्ट ने 5 और पश्चिम विहार ईस्ट ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनसे भारी मात्रा में अवैध शराब बरामद की है। पुलिस ने बदमाशों के कब्जे से भारी मात्रा में अवैध शराब, हथियार और नकदी बरामद की है। पुलिस ने इन आरोपियों की गिरफ़्तारी करके संगठित अपराध करने वालों की कमर तोड़ कर रख दी है।