वाराणसी: ज्ञानवापी मस्जिद मामले में हिंदू पक्ष का प्रतिनिधित्व कर रहे विष्णु शंकर जैन ने कार्बन डेटिंग की मांग की है। उन्होंने सुनवाई के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि हम कार्बन डेटिंग की मांग कर रहे हैं। मुस्लिम पक्ष का कहना है कि यह एक फव्वारा है, हम कहते हैं कि यह शिवलिंग है। एक स्वतंत्र निकाय को इसकी जांच और पता लगाना है। हम कार्बन डेटिंग की मांग के लिए एक आवेदन दाखिल कर रहे हैं। 'शिवलिंग' की कार्बन डेटिंग के लिए हिंदू पक्ष की याचिका पर वाराणसी कोर्ट ने मुस्लिम पक्ष को नोटिस जारी किया है। जिला न्यायालय अगली सुनवाई 29 सितंबर को करेगी।

बता दें कि बीते 12 सितंबर को पांच महिलाओं के द्वारा कथित तौर पर ज्ञानवापी मस्जिद की बाहरी दीवार पर स्थित हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियों की प्रतिदिन पूजा अर्चना करने की याचिका को स्वीकार किया था। वहीं अंजुमन इंस्तेजामिया कमिटी के द्वारा दी गई अर्जी को खारिज कर दिया गया है, साथ ही उन्होंने कहा इस मामले पर आगामी 22 सितंबर को कोर्ट दुबारा से सुनवाई करेगी। फैसले के बाद याचिकाकर्ता सोहन लाल आर्या ने कहा है कि हिन्दु पक्ष की जीत हुई है। यह फैसला आगामी ज्ञानवापी मंदिर का आधार है। मै सभी हिन्दु भाई-बहनों से शांति बनाए रखने की अपील करता हुं।