रिपोर्ट- राजीव मेहता (पानीपत, हरियाणा)

हरियाणा। पानीपत की पुलिस और बदमाशों के बीच बीती रात मुठभेड़ हो गई, दोनों तरफ से गोलियां चली। मुठभेड़ के बाद बदमाशों के पैरों में गोली लगी। जबकि, पुलिस की सरकारी गाड़ी पर गोली लगी है। कई राउंड फायर के बीच पानीपत CIA-2 ने दो घायल समेत तीन बदमाशों को काबू कर लिया।

बदमाशों को वहां से सिविल अस्पताल लाया गया। जहां दोनों घायल बदमाश उपचाराधीन है। जबकि एक आरोपी को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु कर दी है। बदमाशों ने प्रारंभिक पूछताछ में तहसील कैंप के ड्राइवर मोहित सोनी का अपहरण, लूटपाट व हत्याकांड का खुलासा किया है।

सनौली एरिया के गांव शमशाबाद में हुई मुठभेड़ -

पुलिस टीम ने गुप्त सूचना के आधार पर बदमाशों को पकड़ने के लिए सनौली एरिया के गांव शमशाबाद में दबिश दी। मुठभेड़ के दौरान पकड़े गए बदमाशों की पहचान आशोक लोहारी और नरेश निवासी विजय नगर, रोहतक के रुप में हुई है। इन दोनों बदमाशों के पैरों में गोली लगी है, दोनों सिविल अस्पताल में उपचाराधीन है।

CIA-2 प्रभारी इंस्पेक्टर वीरेंद्र कुमार ने बताया कि उनकी एक टीम गश्त के दौरान सनौली थाना के क्षेत्र गांव शमशाबाद में तैनात थी। इसी दौरान उन्हें सूचना मिली की लूटपाट कर हत्या करने के आरोपी फिर से वारदात को अंजाम देने की फिराक में घूम रहे हैं। सूचना के आधार पर पुलिस ने मौके पर दबिश दी।

पुलिस को देखते ही बदमाशों ने एक-दूसरे को सावधान किया कि पुलिस आ गई है और इसी बीच उन्होंने फायरिंग करनी शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाब में पहले हवाई फायर कर बदमाशों को सरेंडर करने की चेतावनी दी, मगर बदमाश पुलिस की ओर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाते रहे।

जिस दौरान अपने बचाव में पुलिस ने बदमाशों के पैरों में गोली मारी और उन्हें मौके पर काबू कर लिया। पुलिस ने दो बदमाशों को गोली मारकर तथा एक बदमाश को सुरक्षित काबू किया है। आरोपियों से आगामी पूछताछ जारी है।