संवाददाता- हस्ती मल साहू,राजसमन्द

राजसमंद। प्रदेश की जूनियर वॉलीबॉल टीम की गोल्ड मेडलिस्ट प्लेयर संगीता जाट ने कहा कि सफलता सुविधाओं की मोहताज नहीं होती है। सफलता व्यक्ति के जोश व सतत प्रयास के अधीन होती है जो व्यक्ति पूरी लगन के साथ प्रयास करें तो मात्र खेल ही नहीं, जीवन के हर क्षेत्र में सफलता निश्चित प्राप्त होती है।

गोल्ड मेडलिस्ट जाट ने जम्मू में 14 नवंबर से 19 नवबंर तक आयोजित वॉलीबॉल की जूनियर नेशनल प्रतियोगिता में राजस्थान की ओर से प्रतिनिधित्व करते हुए फाइनल मुकाबला पश्चिम बंगाल से 3-0 से जीतकर चैंपियनशिप व गोल्ड मेडल प्राप्त करने के बाद मंगलवार को फियावडी सड़क उप्रावि में आयोजित अभिनंदन समारोह में विचार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि खिलाड़ी को कभी सुविधाओं का मोहताज नहीं होना चाहिए। खिलाड़ी अगर पूरी लगन व मेहनत के साथ प्रयास करें तो किसी भी खेल में सर्वोच्च स्थान पर पहुंच जा सकता है। उन्होंने कहा कि उन्हें जो सफलता मिली है उसमें उनके परिवार, खेल प्रशिक्षक, विद्यालय परिवार व टीम प्रबंधन का काफी अच्छा सहयोग रहा है। उन्होने कहा कि उनका लक्ष्य है कि वो देश के लिए अन्तराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिनिधित्व करे उसके लिए वो और भी कडी मेहनत के साथ में अभ्यास करेगी। संगीता जाट के प्रशिक्षक राजेंद्र पालीवाल ने बताया कि कोई भी खिलाड़ी लगन व अनुशासन के साथ खेले तथा सतत प्रयास करें तो सफलता निश्चित मिलती है।

उन्होंने कहा कि खिलाड़ी में खेल के प्रति सकारात्मक भाव व एटीट्यूट में लक्ष्य को लेकर हार्ड वर्क हो तो कोई भी चुनौती असंभव नहीं है। फियावडी सरपंच सुरेश चौधरी ने बताया कि ग्राम पंचायत क्षैत्र की बेटी संगीता जाट ने वॉलीबॉल खेल में श्रेष्ठ प्रदर्शन करके राष्ट्रीय स्तर पर गांव व जिले का नाम रोशन किया है। ग्राम पंचायत को बेटी की सफलता पर गर्व की अनुभूति है। फियावडी सड़क उच्च प्राथमिक विद्यालय की संस्था प्रधान जयमाला सालवी ने बताया कि संगीता जाट की सफलता के पीछे उसकी कड़ी मेहनत व लगन है। उसने कभी भी अभ्यास व प्रैक्टिस करने से जी नहीं चुराया। लगातार खेल मेदान में सुबह व शाम को पैक्टिस करके तथा खेल में कडी मेहनत करके सफलता प्राप्त की है। उसकी उपलब्धि पर गर्व की अनुभूति है।

समाजसेवी गणेश लाल पालीवाल ने बताया कि राजसमंद जिले की बेटी संगीता जाट ने श्रेष्ठ खेल का प्रदर्शन करके प्रदेश की वॉलीबॉल टीम को नेशनल चैंपियनशिप प्रदान करवाई । पूरे प्रदेश के लिए गौरव का विषय है। संगीता जाट ने उसके घर, परिवार, गांव के साथ जिले का नाम भी प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाया है। बेटी संगीता जाट की सफलता जिले की अन्य बेटियों के लिए भी प्रेरणा का स्त्रोत बनेगी। फियावडी उप्रावि में आयोजित अभिनंदन कार्यक्रम के पूर्व ग्रामीणों ने नेशनल चैंपियन टीम की सदस्या संगीता जाट का डीजे ढोल नगाड़ों के साथ फियावडी गांव में विजय जुलूस निकाला। ग्रामीणों व खेल प्रेमियो ने पुष्प वर्षा कर के बेटी का अभिनंदन किया तथा फियावडी सडक उप्रावि में आयोजित अभिनंदन समारोह में गोल्ड मेडलिस्ट संगीता जाट को विशेष सम्मान प्रदान किया गया।

आयोजित अभिनंदन समारोह में फियावडी सरपंच सुरेश चौधरी, समाजसेवी गणेश लाल पालीवाल, गिरिराज काबरा, विनोद तातेड, सर्व व्यापार मंडल कुंवारिया के अध्यक्ष गिरिराज मूंदड़ा, फियावडी सडक उप्रावि संस्था प्रधान जयमाला सालवी, पीईईओं राकेश चपलोत, खेल प्रशिक्षक राजेन्द्र पालीवाल, मनोज खटीक, जिला वालीवाल संघ के अध्यक्ष मानसिंह, सचिव प्रेम सिंह पडिहार, सयुक्त सचिव आशीक मोहम्मद, उपाध्यक्ष यशवंत जोशी, ब्रजेश पालीवाल, कोषाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण तोषनीवाल, महेन्द्र मान, जयेश शर्मा, मनीष शर्मा, विनोद बोहरा, संध्या खण्डेलवाल, अल्ताफ मोहम्मद, अनुराधा पंचोली, अनिता, श्वेता राजपुत, भेरू लाल पूर्बिया, शेतान सिंह, जानकी लाल विजयवर्गीय, दशरथ आमेटा, राजेन्द्र सालवी, रमेश वेष्णव, राजवीर खटीक, पप्पु वीरवाल, राजेश खटीक, भंवर सिंह झाला आदि काफी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे।

परिवार में खुशी का माहोल-

बेटी संगीता जाट की उपलब्धि पर उसके पिता रतन लाल जाट, मां मिठु देवी जाट, बहन लक्ष्मी जाट, रेखा जाट, भाई जयराम जाट, काका सुरेश जाट आदि परिवारजनो ने खुशी व्यक्त करते हुए परिवार के लिए गौरव का विषय बताया है।