भारत 26 जनवरी 2023 को अपना 74वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है। इस गणतंत्र दिवस परेड में छत्तीसगढ़ से पहली बार थर्ड-जेंडर सुरक्षाकर्मी भाग लेने जा रहे हैं। इस बार छत्तीसगढ़ के बस्तर में गणतंत्र दिवस ख़ास रहने वाला है। थर्ड-जेंडर सुरक्षाकर्मी अन्य लड़कों के साथ कदमताल करते हुए मार्च पास्ट करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को सलामी देंगे।

बस्तर फाइटर के सुरक्षा कर्मियों में पुरुष, महिला और थर्ड-जेंडर की भर्ती की गई थी। जिन्होंने कड़ी ट्रेनिंग के बाद महिला और पुरुष कर्मियों के साथ कदम से कदम मिलकर नक्सलियों के छक्के छुड़ाए हैं। यह गणतंत्र दिवस बस्तर के लोगों के लिए भी ख़ास होने वाला है। छत्तीसगढ़ में थर्ड-जेंडर के भाग लेने पर एक अधिकारी ने कहा कि इसके द्वारा क्षेत्र में एक सकारात्मकता सन्देश जाएगा।

भारत की राजधानी दिल्ली में कर्त्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस की परेड होगी, जहाँ सभी सेनाएं और सुरक्षाबल अपनी ताकत का प्रदर्शन करेंगे। इसके साथ ही 23 प्रदेशों की झांकियां भी निकली जाएँगी जिसमें से 17 झांकियां अलग-अलग राज्यों और केंद्र शाषित प्रदेशों की होंगी और जबकि 6 झांकियां अलग-अलग मंत्रालयों और विभागों की देखने को मिलेंगी। इस बार ज़्यादा झांकियों का विषय 'नारी शक्ति' पर आधारित है। बता दें कि इस बार गणतंत्र दिवस पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल-सीसी को आमंत्रित किया है, उन्हें साथ मिस्र के अन्य अधिकारी और पाँच मंत्री भी इस कार्यक्रम में शिरक़त करेंगे। बताया जा रहा है कि इस साल इंटरनेशनल गीता फेस्टिवल को हरियाणा की झांकी का विषय रखा गया है। इसमें भगवत गीता में वर्णित श्री कृष्ण भगवान की एक 'विराट प्रतिमा' को शामिल किया जाएगा।