शाहजंहापुर। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में थाना रोजा क्षेत्र के बांडे गांव का मामला है। अवैध रूप से संचालित हो रहे अवैध हॉस्पिटल लगातार लोगो को मौत का निमंत्रण दे रहे है। वही लगातार हो रही घटनाओं के बाद स्वास्थ महकमा खामोश है। यहां एक बार फिर प्रसव के दौरान एक महिला की मौत का मामला सामने आया है। महिला के परिजनों ने महिला की मौत के लिए चिकित्सक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा काटा। 

परिजनों ने महिला की मौत के लिए हॉस्पिटल संचालक को जिम्मेदार ठहराया है। परिजनो का आरोप बिना रजिस्ट्रेशन के ही अस्पताल चल रहा है और बिना सर्जन के ऑपरेट किया जा रहा है। फिलहाल यह पहला मामला नहीं है जब किसी मरीज की मौत पर हंगामा हुआ हो जिले में दर्जनों संचालित हो रहे अवैध अस्पताल लगातार लोगो की मौत का कारण बन रहे है और हंगामे के बाद परिजनों से लाशों पर सौदा कर के मामले को दबा देते है। ताजा मामला थाना रोजा क्षेत्र के हथौड़ा मोहम्दी रोड साफिया हॉस्पिटल का है।

थाना क्षेत्र के बाड़ी गांव गांव में रहने वाले मुस्तफा ने बताया कि उन्होंने अपनी पत्नी रुखसाना बनो को डिलीवरी के लिए साफी हॉस्पिटल में भर्ती कराया था डॉक्टरों ने देखने के बाद हालत ठीक बताई थी भर्ती के बाद पेशेंट ऑपरेशन थिएटर में चलकर गया और ऑपरेशन के दौरान महिला की मौत हो गई डॉक्टरों ने मौत के बाद मरीज को ले जाने की बात कही परिजनों का आरोप है पता संचालक डॉक्टर की लापरवाही से महिला की मौत हो गई जिसका जिम्मेदार अस्पताल संचालक हैं।

लापरवाही के चलते उन्होंने महिला की जान ले ली महिला की मौत के बाद परिजनों ने हॉस्पिटल में जमकर हंगामा काटा जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को शांत कराया।  यह कोई पहला मामला नहीं है जब किसी मरीज की मौत पर हंगामा हुआ हो जिले में दर्जनों संचालित हो रहे अवैध हॉस्पिटल गरीबों को इलाज के नाम  लूट रहे है और लोगो की जान से खिलवाड कर रहे है लेकिन स्वास्थ महकमा मौतों पर तमाशा देख रहा है।