जर्मनी के राजदूत ने सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की है। इस दौरान प्रदेश में निवेश को लेकर चर्चा हुई। जिसमें जर्मन राजदूत ने उत्तर प्रदेश के ओद्यौगिक विकास में निवेश की इच्छा जताई है।

सोमवार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पर भारत में जर्मनी के राजदूत फिलिप एकरमैन ने एक शिष्टाचार भेंट की। इस दौरान भारत और जर्मनी के बीच मजबूत आर्थिक संबंधों को लेकर बातचीत हुई। साथ ही जर्मन राजूदत ने प्रदेश के ओद्यौगिक विकास में सहयोग की उम्मीद जताई है।

मुख्यमंत्री योगी ने जर्मन राजदूत का अभिनंदन करते हुए कहा कि कहा कि भारत और जर्मनी के 500 से अधिक वर्षों के व्यापारिक और आर्थिक रिश्ते जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के मार्गदर्शन में दोनों देशों के बीच पारस्परिक संबंध लगातार नई ऊंचाइयों को छू रहे हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर कहा कि "आज भारत में जर्मनी के राजदूत से शिष्टाचार भेंट हुई। इस अवसर पर मजबूत आर्थिक संबंधों सहित प्रदेश में औद्योगिक निवेश को लेकर सार्थक विचार-विमर्श हुआ। प्रधानमंत्री प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में भारत-जर्मनी संबंध नई ऊंचाइयों को छू रहे हैं।"

सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की आबादी 24 करोड़ की है और यह देश की कुल जीडीपी में आठ प्रतिशत की हिस्सेदारी करता है। वहीं क्षेत्रफल की दृष्टि से उत्तर प्रदेश देश का चौथे सबसे बड़े राज्य के रूप में तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है।