भारत के जानेमाने पहलवान दिल्ली के जंतर- मंतर पर भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) के खिलाफ लगातार प्रदर्शन कर रहे है। बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, आसू मलिक, साक्षी मलिक, सत्यव्रत कादियान, अंतिम पंघाल, रवि दहिया, दीपक पूनिया, संगीता फोगाट, सरिता मोर, सोनम मालिक, महावीर फोगाट, कुलदीप मालिक समेत देश के करीब 30 बड़े पहलवानो ने कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष पर यौन शोषण समेत कई आरोप लगाए है। इस मामले को खेल मंत्रालय ने गंभीरता से लेते हुए। आज खेल मंत्री अनुराग ठाकुर पहलवानों से मुलाकात करेंगे।

दिल्ली सरकार ने साधा निशाना

इस मामले मे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट पर भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि हरियाणा के मिनिस्टर से लेकर WFI के अध्यक्ष तक पर गंभीर आरोप लगे, लेकिन ना इस्तीफ़े हुए, ना कार्रवाई। देश की महिला खिलाड़ियों की सुरक्षा के मसले पर इनकी पार्टी और सरकार अपने नेताओं को बचाने में लगी हैं। ये बेहद शर्मनाक है।

 

पहलवानों को मिला बॉक्सर विजेंदर सिंह का समर्थन 

भारतीय कुश्ती महासंघ के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर पहलवानों के विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए मुक्केबाज विजेंदर सिंह। वे कहते हैं, ''मैं आज यहां पहलवानों से मिलने आया हूं.''

 

रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह आज शाम 4 बजे के बाद उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के नवाबगंज स्थित कुश्ती प्रशिक्षण केंद्र में प्रेस वार्ता करेंगे। रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने गृह मंत्री अमित शाह से फोन पर उनकी बात होने के सवाल पर कहा, "मेरी किसी से कोई बात नहीं हुई है, मैं शाम में प्रेस वार्ता करूंगा।"

मीडिया से बात करते हुए WFI अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि टीम के रुकने की व्यवस्था हम नहीं करते हैं, रुकने की व्यवस्था आयोजक करते हैं। प्रत्येक देश की टीम को अलग-अलग जगह ठहराया जाता है। जिस खिलाड़ी ने आरोप लगाया है कि दरवाज़ा खुला था तो वह खिलाड़ी उस टूर्नामेंट में नहीं थी।

मागें पूरी होने तक जारी रहेगा प्रदर्शन: विनेश फोगाट

ओलिंपियन विनेश फौगाट ने कहा कि बृजभूषण शरण सिंह से जब इस्तीफा नहीं ले लेंगे और जेल भी भिजवाएंगे। जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होती तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा। हमारी जान चली जाएगी हमे ये मंजूर है। लेकिन कुश्तीके भविष्य को संवारकर ही हम दम लेंगे। बीते दिन केंद्र सरकार की ओर से पूर्व पहलवान बबीता फोगाट जंतर- मंतर पर पहुंची और प्रदर्शन कर रहे पहलवानों को भरोसा दिलाया।