गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा है कि दक्षिणी गोवा में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान - आईआईटी परिसर (IIT Campus) बनाया जा सकता है और गोवा सरकार इसके लिए उपयुक्त ज़मीन तलाश रही है। मुख्यमंत्री ने बताया कि पहले उत्तरी गोवा के सत्तारी तालुका में आईआईटी कैंपस के लिए ज़मीन का चुनाव किया गया था लेकिन 2021 लोगों के विरोध के बाद इस परियोजना को रद्द कर दिया गया था। इसके बाद दक्षिण गोवा के संगेम में एक ज़मीन को कैंपस के लिए उपयुक्त पाया गया लेकिन जगह कम होने की वजह से इस परियोजना की फिर से रद्द कर दिया गया था।

उन्होंने बताया कि हाल ही में गोवा विधानसभा के शीतकालीन सत्र में इसके बारे में चर्चा हुई थी। सावंत ने ये भी कहा कि दक्षिण गोवा में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान बनेगा और इसके लिए ज़मीन तलाश जारी है, हालाँकि किसी भी तरह के अनावश्यक विरोध से बचने के लिए उन्होंने जगह बताने से इंकार कर दिया। इस मुद्दे पर सदन में चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायक एल्टोन डी कोस्टा ने राज्य सरकार से अपने निर्वाचन क्षेत्र में आईआईटी कैंपस लगाने को कहा था। उन्होंने कहा कि क्यूपेम निर्वाचन क्षेत्र के बैतूल में आईआईटी संसथान की स्थापना की जाए।

भारत में आईआईटी के कुल 23 तकनीकी शिक्षा संस्थान हैं। ये संस्थान भारत सरकार द्वारा स्थापित किये गए हैं। आईआईटी गोवा 2016 में स्थापित भारत सरकार द्वारा आठ नए आईआईटी में से एक के रूप में स्थापित किया गया था। आईआईटी गोवा के कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए 60 प्रतिशत अंकों के साथ GATE या JAM का पेपर पास किया हुआ होना चाहिए जो क्रमशः इंजीनियरिंग और विज्ञान के कार्यक्रमों के लिए आयोजित किया जाता है।