Commonwealth Games2022 8 अगस्त को समाप्त हो रहा है. इस बीच पाकिस्तानी पत्रकार शायराज हसन चर्चा में हैं. उन्होंने पाकिस्तान के सरकार से कड़वा सवाल किया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि इस तरह भारत अपने एथलीटों को प्रोजेक्ट करता है. पूजा गहलोत ने कांस्य जीता और दुख व्यक्त किया क्योंकि वह स्वर्ण पदक जीतने में असमर्थ थीं, और पीएम मोदी ने उन्हें जवाब दिया। कभी पाकिस्तान के पीएम या राष्ट्रपति के लिए ऐसा संदेश देखा है? क्या उन्हें यह भी पता है कि पाकिस्तानी एथलीट पदक जीत रहे हैं?

 

गैरतलब है कि, बीते दिन भीरतीय एथलीट पूजा गेहलोत ने महिलाओं की 50 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में कांस्य पदक जीतीं. जिसके बाद भावूक होकर कहा कि ''मैं अपने देशवासियों से माफी मांगती हूं. मैं चाहती थी कि यहां राष्ट्रगान बजाया जाए.. दरअसल, गेहलोत गोल्ड से चूक गई जिसके कारण वह अपनी भावनाओं को रोक नहीं सकीं.

 

जिसके बाद में पीएम मोदी ने पूजा गेहलोत हिम्मत देते हुए लिखा कि पूजा, आपका पदक जश्न मनाने के लिए कहता है, माफी के लिए नहीं. आपकी जीवन यात्रा हमें प्रेरित करती है, आपकी सफलता हमें प्रसन्न करती है. आप आगे ऐसे ही चमकते रहें!

Commonwealth Games2022 अपने अंतिम पड़ाव पर है. भारतीय खिलाड़ियों ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए मेडलों के सूची में पांचवा स्थान बरकरार रखा है. भारतीय एथलीटों के द्वारा अबतक कुल 40 मेडल जीत लिया गया है. जिसमें 13 गोल्ड, 11 सिल्वर और 16 ब्रॉन्ज शामिल हैं. कई भारतीय खिलाड़ियों ने पहली बार तो कई का अंतराष्ट्रीय स्तर पर दुसरी और तीसरी मेडल है.